Raju Thehat Murder Case: गैंगस्टर रोहित गोदारा ने 9 महीने पहले रची थी पूरी साजिश, यूं दिया अंजाम

हाइलाइट्स

राजू ठेहट हत्याकांड की साजिश का खुलासा
गैंगस्टर रोहित गोदारा ने शूटर्स को भेजा था सीकर
हत्याकांड से पहले शूटर्स को दी गई थी हथियार चलाने की पूरी ट्रेनिंग

जयपुर. गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या (Raju Thehat Murder Case) की साजिश लॉरेंस गैंग के गैंगस्टर रोहित गोदारा (Rohit Godara Gangster of Lawrence Gang) ने 9 महीने पहले अप्रैल में बीकानेर के लूणकरणसर में रची थी. इसके लिए रोहित ने शूटर्स को 10 अप्रैल को लूणकरणसर बुलाया था. फिर शूटर्स को सीकर जाने के लिए कहा था. उसने शूटर्स को कहा था एक बड़े अपराधी को मारने का टारगेट है. इन शूटर्स में हरियाणा के सतीश मेघवाल और जतिन कुम्हार समेत एक नाबालिग को शामिल था. रोहित ने उनको सीकर में अपने गुर्गे मनीष जाट के पास भेजा था. राजू ठेहट हत्याकांड की चल रही जांच पड़ताल के दौरान इस साजिश की परतें खुली हैं.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक मनीष ने ही तीनों शूटर्स को सीकर के एक कोचिंग संस्थान में दाखिला दिलवाया था. फिर एक पीजी हॉस्टल में रखा और रुपये दिए. हत्या से पहले रोहित ने योजनाबद्ध तरीके से मनीष तक हथियार पहुंचाये. उसने राजू ठेहट को शूटआउट करने की पूरी जिम्मेदारी मनीष जाट को ही सौंपी थी. राजू ठेहट की हत्या से 5 दिन पहले शूटर विक्रम ने तीन शूटर्स को सीकर के बामरड़ा में फार्म हाउस में हथियार चलाने की ट्रेनिंग दी थी.

मनीष ने शूटर्स को दी थी हथियार चलाने की पूरी ट्रेनिंग
इसके लिए राजू ठेहठ का नकली टारगेट बनाकर 5-5 राउंड फायर करवाए थे. शूटर्स को मैगजीन लोड करना, ब्रस्ट फायर करने और सेफ्टी बटन के इस्तेमाल की ट्रेनिंग दी गई. ये तीनों शूटर्स सोशल मीडिया के जरिये रोहित के संपर्क में आये थे. उसके बाद मनीष जाट ने शूटर्स के साथ मिलकर पूरे योजनाबद्ध तरीके से राजू ठेहट को उसके घर में गोलियों से छलनी कर दिया और फरार हो गए. लेकिन उनको गैंगवार की इस वारदात के 24 घंटे के भीतर पुलिस ने दबोच लिया था.

आपके शहर से (जयपुर)

पिछले सप्ताह हुई थी राजू ठेहट की हत्या
उल्लेखनीय है कि राजू ठेहट की पिछले सप्ताह सीकर में दिनदहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या कर की गई थी. इस दौरान शूटर्स ने करीब 52 राउंड फायर किए थे. राजू ठेहट बीते करीब दो दशक से अपराध की दुनिया में सक्रिय था. वह अपना पूरा गैंग चलाता था. राजू ठेहट की राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर रहे आनंदपाल से दुश्मनी थी. आनंदपाल को वर्ष 2017 में पुलिस ने चूरू जिले के मालासर गांव में एनकाउंटर में मार गिराया था. उसके बाद राजू ठेहट यहां अपराध की दुनिया में एकछत्र राज करने लग गया था. लेकिन अंतत: राजू ठेहट खुद भी अपने ही घर में गैंगवार का शिकार हो गया.

Tags: Bikaner news, Crime News, Jaipur news, Murder case, Rajasthan news, Sikar news

#Raju #Thehat #Murder #Case #गगसटर #रहत #गदर #न #महन #पहल #रच #थ #पर #सजश #य #दय #अजम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Language »